Ad12

Ad12

MS14 सत्संग- सुधा भाग 3 || वेद-उपनिषद्, गीता-रामायण एवं सन्तवाणी सम्मत ईश्वर-भक्ति, सदाचार आदि का वर्णन

MS14 सत्संग-सुधा भाग 3

     प्रभु प्रेमियों ! 'महर्षि मेँहीँ साहित्य सूची' की चौदहवीं पुस्तक "सत्संग- सुधा भाग 3" है । इस पुस्तक में  सद्गुरु महर्षि मेँहीँ परमहंस जी महाराज के 24 प्रवचन हैं। इन प्रवचनों में  मानव-जीवन के सर्वांगीण और पूर्ण विकास तथा कल्याण के लिए ईश्वर भक्ति या अध्यात्म-ज्ञान की अनिवार्य आवश्यकता है। वेदों, उपनिषदों, गीता, सन्तवाणियों में सदा से ईश्वर - स्वरूप, उसके साक्षात्कार करने की सयुक्ति एवं अनिवार्य सदाचार- पालन के निर्देश बिल्कुल एक ही हैं, केवल भाषा, शैली और शब्द-योजनाओं का ही उनमें भेद हैं- - तथ्य और अर्थ सभी के साररूप में एक ही हैं। ऐसा बताया गया है।  आइये इस पुस्तक का अवलोकन करते हैं--

     महर्षि मेँहीँ साहित्य सीरीज की तेरहवीं  पुस्तक "MS13 सत्संग- सुधा भाग 2 || 18 प्रवचनों में विंदु ध्यान और नाद ध्यान सहित व्यवहारिक ज्ञान भी है। " के बारे में जानने के लिए   👉 यहां दवाएँ। 

MS14  सत्संग- सुधा भाग 3  मुख्य कवर
सत्संग सुधा भाग 3

वेद-उपनिषद्, गीता-रामायण एवं सन्तवाणी सम्मत ईश्वर-भक्ति, सदाचार आदि का वर्णन

    प्रभु प्रेमियों ! 60 वर्षों से बिंदु-नाद की साधना करते हुए संत- साहित्य के प्रमाणों के आधार पर सद्गुरु महर्षि मेँहीँ परमहंस जी महाराज ने अपने अट्ठारह प्रवचनों में सत्संग, ध्यान, ईश्वर, सद्गुरु, सदाचार एवं संसार में रहने की कला के बारे में बताये हैं। साथ ही यह भी बताया गया है कि वेद-उपनिषद एवं संत- साहित्य में वर्णित बातें बिल्कुल सत्य हैं और जांचने पर प्रत्यक्ष है। लोग इन साधनाओं को करके अपना इहलोक और परलोक के जीवन को सुखमय बना सकते हैं । जिन लोगों ने इसका अनुसरण किया वे धन्य धन्य हो रहे हैं । आप भी पीछे न रहे पढ़िये इन प्रवचनों को और मानव जीवन को धन्य-धन्य बनाइये।  आइये पुस्तक का दर्शन करें--


सत्संग सुधा भाग 3
सत्संग सुधा भाग 3.

इस पुस्तक के बारे में विशेष 

जानकारी के लिए

 👉यहाँ उत्तर




इस  पुस्तक को आप ओनलाइन अभी खरीदें ।   इसे ऑनलाइन खरीदने के लिए निम्नलिखित वेवसाईट हैं--


सचेतन


इस अनमोल ग्रंथ के मूल संस्करण के लिए 👉

न्यूनतम सहयोग राशि ₹ 75/-  +  शिपिंग चार्ज

सत्संग सुधा भाग 3
सत्संग सुधा भाग 3.
 @instamojo  
           Buy now
अभी खरीदे


सचेतन


इस अनमोल ग्रंथ के पीडीएफ संस्करण के लिए

न्यूनतम सहयोग राशि ₹ 25/-    

सत्संग सुधा भाग 3
सत्संग सुधा भाग 3.

 @instamojo  
           Buy now
अभी खरीदे



सचेतन


बिशेष--   प्रभु प्रेमियों ! उपरोक्त लिंक में से कहीं भी किसी प्रकार का पुस्तक खरीदने में दिक्कत हो, तो हमारे व्हाट्सएप नंबर 7547006282 पर मैसेज करें. इससे आप विदेशों में भी पुस्तक मंगा पाएंगे. कृपया कॉल भारतीय समयानुसार  दिन के 12:00 से 2:00  बजे के बीच में ही हिंदी भाषा में करें. शिपिंग चार्ज  तथा सहयोग राशि भेजने के लिए पेमेंट औप्सन के लिए   👉 यहाँ दवाएँ। 


    प्रभु प्रेमियों  ! इस पुस्तक के बारे में इतनी अच्छी जानकारी प्राप्त करने के बाद हमें विश्वास है कि आप इस पुस्तक को अवश्य खरीद कर आपने मोक्ष मार्ग के अनेक कठिनाईयों को दूर करने वाला एक सबल सहायक प्राप्त करेंगे. महर्षि मेँहीँ प्रवचन, सत्संग सुधा,  maharshi menheen pravachan, maharshi menhee baaba ka pravachan, maharshi menhee daas ka pravachan, maharshi menhee daas ka pravachan sunaie,   इत्यादि बातें।, आदि बातें।  इस बात की जानकारी अपने इष्ट मित्रों को भी दे दें, जिससे वे भी इससे लाभ उठा सकें और आप इस ब्लॉग वेबसाइट को अवश्य सब्सक्राइब करेंजिससे आपको आने वाले पोस्ट की सूचना निशुल्क मिलती रहे और आप मोक्ष मार्ग पर होने वाले विभिन्न तरह के परेशानियों को दूर करने में एक और सहायक प्राप्त कर सकेनीचे के वीडियो  में सत्संग योग चारो भाग के बारे में और कुछ जानकारी दी गई है . उसे भी अवश्य देख लें. फिर मिलते हैं दूसरे प्रसंग के दूसरे पोस्ट में . जय गुरु महाराज !




महर्षि साहित्य सीरीज की अगली पुस्तक है- MS15


MS15_मुख्य_कवर
MS15_मुख्य_कवर

प्रभु प्रेमियों ! महर्षि मेँहीँ साहित्य सीरीज  की अगली पुस्तक  "MS15 सत्संग सुधा भाग 4" है । . इस पुस्तक के बारे में विशेष जानकारी के लिए    👉 यहां दवाएँ।

    सद्गुरु  महर्षि मेँहीँ परमहंस जी महाराज की पुस्तकें निःशुल्क प्राप्त करने की शर्तें की जानकारी के लिए 👉 यहाँ दवाएँ 
---×---
MS14 सत्संग- सुधा भाग 3 || वेद-उपनिषद्, गीता-रामायण एवं सन्तवाणी सम्मत ईश्वर-भक्ति, सदाचार आदि का वर्णन MS14  सत्संग- सुधा भाग 3 || वेद-उपनिषद्, गीता-रामायण एवं सन्तवाणी सम्मत ईश्वर-भक्ति, सदाचार आदि का वर्णन Reviewed by सत्संग ध्यान on जुलाई 20, 2023 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

जय गुरु महाराज कृपया इस ब्लॉग के मर्यादा या मैटर के अनुसार ही टिप्पणी करेंगे, तो उसमें आपका बड़प्पन होगा।

Popular Posts

Ads12

Blogger द्वारा संचालित.